135-स्वामी विवेकानंद जी का भाषण 

अमेरिका के बहनों और भाइयों…

आपके इस स्नेहपूर्ण और जोरदार स्वागत से मेरा हृदय बेहद प्रसन्नता से भर गया है. मैं आपको दुनिया की सबसे प्राचीन संत परंपरा की तरफ से धन्यवाद देता हूँ. 


READ MORE स्वामी विवेकानंद जी का भाषण  

 
Top